Board Exam UP 2024 : 10th और 12th exam CCTV कैमरा के निगरानी में

यु पी बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षा के एग्जाम सेंटर्स और परीक्षा तैयारियों को लेकर कुछ अहम जानकारियां साझा की हैं. यूपी बोर्ड की परीक्षा कल, आज (गुरुवार) से शुरू हो रही है. कोई भी छात्र बोर्ड की इस

2024 में यूपी बोर्ड परीक्षा के समय से लेकर कंट्रोल रूम के सेट-अप तक कई बड़े बदलाव किए गए हैं. ऐसे में यूपी बोर्ड परीक्षा 2024 में शामिल होने वाले 55 लाख से अधिक छात्रों को इन बदलावों के बारे में पता होना चाहिए. इस साल यूपी बोर्ड परीक्षा 12 वर्किंग डे में संपन्न होंगी. यूपी बोर्ड हाईस्कूल (10th) और इंटरमीडिएट (12th) की परीक्षाएं 9 मार्च को खत्म होंगी.

TRENDING NOW

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं की परीक्षा के लिए 29.47 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. वहीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए 25.77 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन किया है. रिपोर्ट के मुताबिक, कुल 55.25 लाख स्टूडेंट्स इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षा देंगे. इन छात्रों के लिए राज्य में 8,265 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए 566 सरकारी स्कूलों, 3,479 वित्तपोषित स्कूलों और 4,220 गैर-वित्तपोषित स्कूलों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है.

यू पी में सख्त इंतजाम होने वाले है Strict arrangements are going to be made in UP

यूपी बोर्ड परीक्षा में कॉपियों की अदला-बदली को रोकने के लिए क्यूआर कोड, सीरियल नंबर और लोगो भी प्रिंट किया गया है. परीक्षा 2024 में नकल को रोकने के लिए 2.75 लाख रूम इंविजिलेटर्स के लिए क्यूआर कोड और सीरियल नंबर युक्त कम्प्यूटराइज्ड इंट्रोडक्शन तैयार किया गया है. इसके अलावा परीक्षा की निगरानी के लिए प्रयागराज मुख्यालय और सभी पांच क्षेत्रीय कार्यालयों में कमांड और कंट्रोल सेंटर स्थापित किए गए हैं. इन कमांड कंट्रोल सेंटरों से 6,000 से ज्यादा परीक्षा केंद्रों वाले स्ट्रांग रूम की निगरानी की गई है.

कर सकते इस टोल फ्री पर शिकायत

रिपोर्ट के मुताबिक,परीक्षा में नकल आदि की शिकायत के लिए टोल-फ्री नंबर (यूपी बोर्ड हेल्पलाइन नंबर) 18001805310 और 18001805312 पर शिकायत कर सकते हैं.सभी 8,265 परीक्षा केंद्रों पर एक केंद्र व्यवस्थापक, एक सह केंद्र व्यवस्थापक और एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की गई है. परीक्षा केंद्रों के इंविजिलेटर्स के लिए 1,297 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 430 जोनल मजिस्ट्रेट, 75 राज्य स्तरीय ऑब्जर्वर और 416 मोबाइल टीमें बनाई गई हैं.

निगरानी के लिए लगाए CCTV cemare

यूपी बोर्ड परीक्षा 2024 के प्रश्नपत्र एक सुरक्षित कमरे में रखे जाएंगे. सभी बायसी हजार परीक्षा केंद्रों के लगभग एक लाख पैतीस हजार परीक्षा कक्षों और परिसरों में वॉयस रिकॉर्डर वाले दो लाख नब्बे हजार से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. जिला एवं राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष की ओर से वेबकास्टिंग के माध्यम से इनकी सतत् निगरानी की जायेगी.

प्रश्न पत्र वायरल करने मिलेगी सजा 

सार्वजनिक परीक्षा अधिनियम 1998 की धारा 4/10 के तहत दंडनीय, संज्ञेय और गैर-जमानती अपराध होगा. के 16 जिले-आजमगढ़, बलिया, मऊ, प्रयागराज, मथुरा, बागपत, अलीगढ, मैनपुरी, एटा, हरदोई, कौशांबी, चंदौली, जौनपुर, गाजीपुर, देवरिया और गोंडा काफी संवेदनशील हैं. रिपोर्ट्स से पता चलता है कि अगर यूपी बोर्ड परीक्षा 2024 की समाप्ति के बाद या उससे पहले व्हाट्सएप या अन्य सोशल मीडिया पर किसी ने कोई प्रश्न पत्र वायरल किया, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी…….

ये भी पढ़े :New smartphone : लॉन्च हुआ Vivo Y200e

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *